SarkariJobGuide Special

(BEO) खंड शिक्षा अधिकारी कैसे बने आइये जाने हिंदी में ?

दोस्तों इस पोस्ट मे  हम आपको खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) कैसे बने आइये ? पूरी जानकारी हिंदी में उपलब्ध करा रहे है !  यह जानकारी आपके लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होगी|तो आइये जानते है विस्तार से…

खंड शिक्षा अधिकारी कैसे बने BEO Kaise Bane

विद्यालयों के कुशल संचालन से लेकर सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन में जिला शिक्षा प्रशासन और विद्यालय के बीच बीईओ ही मजबूत कड़ी होते हैं। यह ब्लाक स्तर पर एक प्रतिष्ठित पद होता है| जिसके माध्यम से शिक्षा प्रशासन और विद्यालय के मध्य कार्य की रूपरेखा का निर्धारण किया जाता है| खंड शिक्षा अधिकारी अपने ब्लाक के अंतर्गत सभी अध्यापकों, प्रधानाध्यापकों, प्राइमरी तथा जूनियर हाईस्कूल की जाँच करता है, तथा जाँच में कमी प्राप्त कर उसमें सुधार के लिए प्रयास करते है|

बीईओ का फुल फॉर्म क्या है 

बीईओ खंड शिक्षा अधिकारी
BEO Block Education Officer
बीईओ पदों पर भर्ती (BEO Post Recruitment)
उत्तर प्रदेश पब्लिक सर्विस कमिशन (यूपीपीएससी) ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर अर्थात खंड शिक्षा अधिकारी पदों के लिए विस्तृत नोटिफिकेशन जारी करता है। इन पदों पर भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया होती है। इच्छुक अभ्यर्थी यूपीपीएससी की ऑफिशल वेबसाइट पर यूपीपीएससी बीईओ भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं।

खंड शिक्षा अधिकारी योगता क्या होगी 

खंड शिक्षा अधिकारी बननें के लिए अभ्यर्थी को किसी भी यूनिवर्सिटी या बोर्ड से बीएड की डिग्री या समकक्ष होनी चाहिए।

(हालांकि वर्तमान में निकली भर्तियों के अनुसार अभ्यर्थी को बीएड की डिग्री होनी चाहिए, यदि अभ्यर्थी के पास बीएड की डिग्री नही है, तो सरकारी प्रशिक्षण कॉलेज या सरकारी बेसिक ट्रेनिंग कॉलेज का एल.टी.डिप्लोमा होना अनिवार्य है।)

खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) कैसे बने 

आयु मापदंड (Age)
खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) बननें के लिए अभ्यर्थी की आयु 21 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

खंड शिक्षा अधिकारी का वेतन क्या होगी

इन पदों पर अभ्यर्थी की नियुक्ति के पश्चात ग्रुप ‘सी’ गैजेटिड, वेतनमान 9,300/- से लेकर 34,800/- और ग्रेड पे-4,800/- रुपये प्राप्त होगा|

खण्ड शिक्षा अधिकारी के अधिकार एवं कर्तव्य (BEO Works And Rights)
विकासखंड / क्षेत्र पंचायत अध्यापको की वरिष्ठता सूची तैयार करना तथा जनपद स्तर पर वरिष्ठता सूची तैयार करानें में बीएसए की सहायता करना|
अधीनस्थ निरीक्षक/ निरीक्षकाओं के भ्रमण कार्यक्रम अनुमोदित करना तथा इसके अनुसार अधिकारियों से कर्त्तव्य पालन सुनिश्चित करना |
अपनें क्षेत्र के अंतर्गत अनुशासधात्मक कार्यवाही हेतु बीएसए को प्रस्तावित करना तथा यदि कोई वेतन कटौती करना है, तो बीएसए की अनुमति प्राप्त करनें के बाद अंतिम कार्यवाही करना |
अध्यापक / अध्यापिकाओं की प्रोन्नति हेतु अभिलेख एवं प्रस्ताव बीएसए के समक्ष प्रस्तुत करना|
अधीनस्थ निरीक्षक वर्ग, कार्मिक एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के क्षेत्र पंचायत जिले के बाहर स्थानांतरण की संस्तुति करना|
अशासकीय अनुमानित विद्यालयों के विभिन्न अनुदानों के लिए आवेदन पत्र और अतिपूर्ति प्रपत्रों की जांच के पश्चात उच्च अधिकारियों को प्रेषित करना|
विद्यालयों के लिए ब्लैक बोर्ड और अन्य सामग्री के अंतर्गत प्राप्त अनुदान से सामग्री उपलब्ध कराना |
छात्र संख्या के मानक के आधार पर अध्यापकों की पद स्थापना हेतु बीएसए को प्रस्ताव भेजना|
विद्यालय की समस्त छात्रविधियों को सूचित व्यवस्था करना एवं उनके दुरुपयोग को रोकना |
विद्यालयों की मान्यता हेतु बीएसए की आख्या एवं संस्तुति प्रेषित करना|
विकासखंड/ क्षेत्र पंचायत में सबके लिए शिक्षा सुविधा के लिए शैक्षिक नियोजन करना|
समस्त प्रकार की परीक्षाओं की नियमानुसार व्यवस्था करना|
विकासखंड/ क्षेत्र पंचायत से सम्बंधित समस्त शैक्षिक सूचनाएं अंकलित एवं आकलन करना|
विकासखंड/ क्षेत्र पंचायत से सम्बंधित विधान सभा परिषद प्रश्नों के उत्तर तैयार करना|
विकासखंड/ क्षेत्र पंचायत से सम्बंधित परिवादों का प्रतिवाद प्रस्तुत करना|

बीईओ चयन प्रक्रिया क्या होगी

बीईओ पदों पर अभ्यर्थियों का चयन प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा के आधार पर किया जायेगा| अभी तक इस परीक्षा में साक्षात्कार परीक्षा भी शामिल थी, परन्तु वर्तमान में साक्षात्कार परीक्षा नही होगी|

बीईओ परीक्षा पैटर्न

खंड शिक्षा अधिकारी के पद के लिए इंटरव्यू नहीं होगा। प्रारंभिक परीक्षा (प्री) में सफल होने वाले मुख्य परीक्षा (मेंस) में शामिल होंगे। चयन मुख्य परीक्षा की मेरिट के आधार पर ही किया जाएगा। प्रारंभिक परीक्षा 300 नंबर की होगी। इसमें ढाई-ढाई नंबर के 120 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे। इसके लिए दो घंटे दिए जाएंगे।

मुख्य परीक्षा में दो पेपर होंगे। पहला 200 नंबर का सामान्य अध्ययन और दूसरा 200 नंबर का सामान्य हिन्दी एवं निबंध का पेपर होगा। दूसरे पेपर में 100 नंबर सामान्य हिन्दी और 100 नंबर हिन्दी निबंध के लिए होंगे। मुख्य परीक्षा में कुल 40 दीर्घउत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे।

इसमें 10 प्रश्न सामान्य उत्तरीय होंगे, जिसका उत्तर 125-125 शब्दों में देना होगा, 10 लघु उत्तरीय होंगे, उत्तर 50-50 शब्दों में लिखना होगा। शेष 20 अति लघु उत्तरीय होंगे, जिसका उत्तर 25-25 शब्दों में लिखना होगा। सामान्य उत्तरीय प्रश्न 10-10 नंबर, लघु उत्तरीय प्रश्न 6-6 नंबर तथा अति लघु उत्तरीय 2-2 नंबर के होंगे।

प्रारंभिक परीक्षा पाठ्यक्रम (Pre Exam Syllabus)
समय-दो घन्टे। प्रश्न-120 | पूर्णांक-300

सामान्य विज्ञान
भारत का इतिहास
भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन
भारतीय राज्य तंत्र, अर्थव्यवस्था एवं संस्कृति
भारतीय कृषि, वाणिज्य एवं व्यापार
जनसंख्या, पारिस्थितिकी एवं नगरीकरण (भारतीय परिप्रेक्ष्य में)
विश्व भूगोल तथा भारत का भूगोल और प्राकृतिक संसाधन
अधुनातन राष्ट्रीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय महत्वपूर्ण घटनाक्रम
सामान्य बौद्धिक एवं तार्किक क्षमता
उत्तर प्रदेश की शिक्षा संस्कृति, कृषि, उद्योग, व्यापार एवं रहन-सहन और सामाजिक प्रथाओं के सम्बन्ध में विशिष्ट जानकारी।
प्रारंभिक गणित हाईस्कूल स्तर तक-अंकगणित, बीजगणित व रेखागणित
मुख्य परीक्षा पाठ्यक्रम (Main Exam Syllabus)
सामान्य अध्ययन समय-3 घन्टे, पूर्णांक-200

भारत का इतिहास
भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन और भारतीय संस्कृति
भारत का भूगोल
भारतीय राजनीति
भारतीय कृषि
वर्तमान राष्ट्रीय मामले और सामाजिक सुसंगति के विषय भारत और विश्व
भारतीय अर्थशास्त्र
अन्तर्राष्ट्रीय मामले और संस्थायें
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, संचार और अन्तरिक्ष के क्षेत्र में विकास
शिक्षा में अद्यतन विकास
उत्तर प्रदेश की संस्कृति, कृषि, उद्योग, व्यापार एवं रहन-सहन और सामाजिक प्रथाओं के सम्बन्ध में विशिष्ट जानकारी।

सामान्य हिन्दी एवं निबन्ध (परम्परागत) प्रथम खण्ड | सामान्य हिन्दी | निर्धारित अंक-100

अपठित गद्यांश का संक्षेपण, उससे सम्बन्धित प्रश्न, रेखांकित अंशों की व्याख्या एवं उसका उपयुक्त शीर्षक।
शासकीय एवं अर्द्धशासकीय पत्र, कार्यालय आदेश / ज्ञाप, अधिसूचना, प्रेस विज्ञप्ति और परिपत्र संबंधी पत्र लेखन/आलेखन।
वाक्यों का हिन्दी से अंग्रेजी एवं अंग्रेजी से हिन्दी में अनुवाद ।
अनेकार्थी शब्द, विलोम शब्द, पर्यायवाची शब्द, तत्सम एवं तद्भव, क्षेत्रीय, विदेशी (शब्द भण्डार), वर्तनी, अर्थबोध, शब्द-रूप, संधि, समास, क्रिया, हिन्दी वर्णमाला, विराम चिन्ह, शब्द रचना, वाक्य रचना, अर्थ, मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ, उ0प्र0 की मुख्य बोलियाँ तथा हिन्दी भाषा के प्रयोग में होने वाली अशुद्धियाँ।

द्वितीय खण्ड हिन्दी निबन्ध

निर्धारित अंक-100

इसके अंतर्गत दो उपखण्ड होंगे, प्रत्येक उपखण्ड से एक-एक निबन्ध (कुल मिलाकर दो निबन्ध) लिखने होंगे। प्रत्येक निबन्ध की विस्तार सीमा 700 शब्द होगी।

निबन्ध हेतु क्षेत्र- (खंड अ)

(i) साहित्य, संस्कृति (ii) राष्ट्रीय विकास योजना/क्रियान्वयन (iii) राष्ट्रीय, अन्तर्राष्ट्रीय, सामयिक सामाजिक समस्या /निदान

(खंड ब)

(i) विज्ञान, पर्यावरण (ii) प्राकृतिक आपदाएं एवं उनके निवारण (iii) कृषि, उद्योग एवं व्यापार

ये भी पड़ सकते है

  • Kaun Kya Hai 2019 की पूरी लिस्ट – Click Here
  • भारत के जलप्रपात – Click here
  • महासागरीय जलधाराये हिंदी में – Trick के साथ- Click Here
  • भारतीय राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्रियों की सूची- Click Here
  • भारत की प्रमुख नदियाँ और उनकी लम्बाई : उद्गम स्थल : सहायक नदी हिंदी में– Click Here
  • विश्व के 10 सबसे बड़े बंदरगाहों की सूची हिंदी में- Click Here
  • उत्तर प्रदेश की प्रमुख जनजातियाँ हिंदी में जानिए- Click Here
  • भारत के महत्वपूर्ण दिन और तिथि की सूची हिंदी में- Click Here
  • प्रमुख अंतरराष्ट्रीय सीमाएं हिंदी में- Click Here
  • विश्व के प्रमुख देश एवं उनके सर्वोच्च सम्मान- Click Here
  • भारत की प्रमुख नदी और उनके उद्गम स्थल-Click Here
  • भारत के पुरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को कितनी सैलरी मिलती है- Click Here
  • ये विश्‍व की प्रमुख पर्वत श्रेणियां और उनकी ऊंचाई हिंदी में- Click Here
  • राजस्थान  प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग- Click Here
  • जल्द और सही जानकारी पाने के लिए हमें FaceBook पर Like करे 

    कैसी लगी आपको ये  खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) कैसे बने आइये ? की  यह पोस्ट हमें कमेन्ट के माध्यम से अवश्य बताये और आपको किस विषय की नोट्स चाहिए या किसी अन्य प्रकार की दिक्कत जिससे आपकी तैयारी पूर्ण न हो पा रही हो हमे बताये हम जल्द से जल्द वो आपके लिए लेकर आयेगे|

error: Content is protected !!