शिशुनाग वंश (412-344 ई.पू.) SSC GD,High Court RO/ARO ( For All Competitive Exam)

पोस्ट में हम आपको शिशुनाग वंश (412-344 ई.पू.) के बारे में जानकारी देंगे, क्युकी इस टॉपिक से लगभग 1 या 2 प्रश्न जरूर पूछे जाते है तो आप इसे जरूर पड़े अगर आपको इसकी पीडीऍफ़ चाहिये तो कमेंट के माध्यम से जरुर बताये| आप हमारी बेबसाइट को रेगुलर बिजिट करते रहिये, ताकि आपको हमारी डेली की पोस्ट मिलती रहे और के आपकी तैयारी पूरी हो सके|

शिशुनाग वंश (412-344 ई.पू.)


हर्यंक वंश के बाद मगध पर शिशुनाग वंश का शासन था।

शिशुनाग शिशुगृह वंश का संस्थापक था।

वह अंतिम हर्यंक वंश के शासक नागदशक का मंत्री या अमात्य था।

उन्होंने नागदशक को मार डाला और 412 ई.पू. में शिशुनाग वंश की स्थापना की।

शिशुनाग ने अवंती, वत्स और कोसल के क्षेत्रों को मगध में मिला दिया।

शिशुनाग ने अपनी राजधानी को राजगृह से पाटलिपुत्र स्थानांतरित कर दिया।

बौद्ध सूत्रों के अनुसार वैशाली में उनकी एक माध्यमिक राजधानी भी थी।

पुराणों के अनुसार उनका उल्लेख काकवर्ण के रूप में किया गया था और सिंहल वर्णसंकर (श्रीलंकन ग्रंथ) के अनुसार उन्हें कलशोका के रूप में उल्लेख किया गया था।

383 ई.पू. दूसरी बौद्ध परिषद का आयोजन वैशाली में कलशोका के प्रायोजन के तहत किया गया था।

1. शुंग वंश की राजधानी क्या थी?
उत्तर- शुंग वंश की राजधानी (shung vansh ki rajdhani) विदिशा थी।

2. शुंग वंश की उत्पत्ति कैसे हुई?
उत्तर- अंतिम मौर्य सम्राट बृहद्रथ की हत्या कर उनके सेनापति पुष्यमित्र शुग ने, शुंग वंश की स्थापना की थी।

3. पुष्यमित्र शुंग की जाति क्या थी?
उत्तर- पुष्यमित्र शुंग की जाति ब्राह्मण थी।

4. शुंग वंश में कितने शासक हुए?
उत्तर- शुंग वंश के कुल 10 शासक या राजा हुए थे, जिन्होंने लगभग 112 वर्षों तक राज्य किया।

5. शुंग वंश का अंतिम शासक कौन था?
उत्तर- शुंग वंश का अंतिम शासक देवभूति था।

6. शुंग वंश के अंतिम शासक देवभूति की हत्या किसने की?
उत्तर- शुंग वंश के अंतिम शासक देवभूति की हत्या उसके उत्तराधिकारी वसुदेव ने की थी।

7. शुंग वंश के बाद कौन सा वंश अस्तित्व में आया?
उत्तर- शुंग वंश के बाद कण्व वंश की स्थापना की गई।

8. पुष्यमित्र शुंग की मृत्यु कब हुई थी?
उत्तर- पुष्यमित्र शुंग की मृत्यु 149 ईसा पूर्व हुई थी।

9. शुंग वंश की स्थापना कब हुई थी?
उत्तर- शुंग वंश की स्थापना 187 ईसा पूर्व में हुई थी।

10. पुष्यमित्र शुंग की उपलब्धियों का वर्णन कीजिए?
उत्तर- पुष्यमित्र शुंग ने सनातन संस्कृति की स्थापना की थी, साथ ही वैदिक संस्कृति की पुनः स्थापना इन्हीं की देन है।

11. पुष्यमित्र शुंग के पुरोहित कौन थे?
उत्तर- पुष्यमित्र शुंग के पुरोहित का नाम पतंजलि था।

12. क्या पुष्यमित्र शुंग ही राम था?
उत्तर- नहीं, पुष्यमित्र शुंग राम नहीं था। बल्कि पुष्यमित्र शुंग ने भगवान श्रीराम की तरह अश्वमेध यज्ञ करवाया था, जो कि उनके पुरोहित पतंजलि के सानिध्य में हुआ था।

13. शुंग वंश का प्रथम शासक कौन था?
उत्तर- शुंग वंश का प्रथम शासक पुष्यमित्र शुंग था।

14. अंतिम शुंग राजा कौन था?
उत्तर- अंतिम शुंग राजा देवभुति था।

15. पुष्यमित्र शुंग कौन है?
उत्तर- पुष्यमित्र शुंग, शुंग वंश के संस्थापक थे साथ ही यह शुंग वंश के प्रथम राजा भी थे।

16. पुष्यमित्र शुंग के दरबारी कवि कौन थे?
उत्तर- पुष्यमित्र शुंग के दरबारी कवि हर्षवर्धन थे।

17. हर्षचरित्र की रचना किसने की थी?
उत्तर- हर्षचरित्र की रचना पुष्यमित्र शुंग के दरबारी कवि हर्षवर्धन ने की थी।

सल्तनत काल की कुछ प्रमुख निर्माण एवं कार्य

कैसी लगी आपको शिशुनाग वंश (412-344 ई.पू.) SSC GD,SSC STENO,High Court RO/ARO ( For All Competitive Exam) के बारे में यह पोस्ट हमें कमेन्ट के माध्यम से अवश्य बताये और आपको किस विषय की नोट्स चाहिए या किसी अन्य प्रकार की दिक्कत जिससे आपकी तैयारी पूर्ण न हो पा रही हो हमे बताये हम जल्द से जल्द वो आपके लिए लेकर आयेगे| आपके कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है |

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

error: Content is protected !!