भारत के सभी यूनेस्को विश्व विरासत स्थल की सूचि | पूरी जानकारी हिंदी में

पोस्ट में हम आपको भारत के सभी यूनेस्को विश्व विरासत स्थल की सूचि |  के बारे में जानकारी देंगे, क्युकी इस टॉपिक से लगभग 1 या 2 प्रश्न जरूर पूछे जाते है तो आप इसे जरूर पड़े अगर आपको इसकी पीडीऍफ़ चाहिये तो कमेंट के माध्यम से जरुर बताये| आप हमारी बेबसाइट को रेगुलर बिजिट करते रहिये, ताकि आपको हमारी डेली की पोस्ट मिलती रहे और के आपकी तैयारी पूरी हो सके|

भारत के सभी यूनेस्को विश्व विरासत स्थल की सूचि |

  1. वर्तमान में भारत में कुल 40 UNESCO विश्व विरासत स्थल हैं, जिनमें 7 प्राकृतिक, 32 सांस्कृतिक और 1 मिश्रित स्थल है |
  2. अभी वर्तमान में पूरे विश्व में 1154 यूनेस्को विश्व विरासत स्थल हैं, जिसमें 897 सांस्कृतिक, 218 प्राकृतिक और 39 मिश्रित स्थल है |
  3. भारत में सर्वप्रथम एलोरा की गुफाएं (महाराष्ट्र) को विश्व विरासत स्थल घोषित किया था |
  4. भारत का 39 वां विश्व धरोहर विरासत धरोहर स्थल कालेश्वर (रामप्पा) मंदिर तेलंगाना में स्थित है |
  5. भारत का 40 वा विश्व विरासत धरोहर स्थल हड़प्पा सभ्यता का शहर धोलावीरा है जो गुजरात में स्थित है |
  6. महाराष्ट्र राज्य में सबसे ज्यादा यूनेस्को विश्व विरासत स्थल हैं, महाराष्ट्र में 5 यूनेस्को साइट है |

यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल की सूची हिंदी में

क्र. सं. स्थल का नाम राज्य/क्षेत्र का नाम घोषित वर्ष
1. आगरा का किला उत्तर प्रदेश 1983
2. एलोरा गुफाएं महाराष्ट्र 1983
3. अजंता गुफाएं महाराष्ट्र 1983
4. ताजमहल उत्तर प्रदेश 1983
5. महाबलीपुरम में स्मारक तमिल नाडु 1984
6. सूर्य मंदिर, कोणार्क उड़ीसा 1984
7. काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान असम 1985
8. केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान राजस्थान 1985
9. मानस वन्यजीव अभयारण्य असम 1985
10. खजुराहो स्मारकों का समूह मध्य प्रदेश 1986
11. फतेहपुर सीकरी उत्तर प्रदेश 1986
12. हम्पी में स्मारकों का समूह कर्नाटक 1986
13. गोवा के चर्च और कॉन्वेंट गोवा 1986
14. पट्टादकल के स्मारकों का समूह कर्नाटक 1987
15. एलीफेंटा गुफाएं महाराष्ट्र 1987
16. सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान पश्चिम बंगाल 1987
17. चोल मंदिर तमिल नाडु 1987, 2004
18. नंदा देवी और फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान उत्तराखंड 1988, 2005
19. कैपिटल कॉम्प्लेक्स चंडीगढ़ 2016
20. सांची के बौद्ध स्मारक मध्य प्रदेश 1989
21. हुमायूँ का मकबरा दिल्ली 1993
22. कुतुब मीनार और उसके स्मारक दिल्ली 1993
23. भारत के पर्वतीय रेलवे विभिन्न भारतीय राज्य 1999, 2005, 2008
24. बोधगया में महाबोधि मंदिर परिसर बिहार 2002
25. भीमबेटका की गुफाएँ मध्य प्रदेश 2003
26. चंपानेर-पावागढ़ पुरातत्व पार्क गुजरात 2004
27. छत्रपति शिवाजी टर्मिनल महाराष्ट्र 2004
28. लाल किला परिसर दिल्ली 2007
29. जंतर मंतर, जयपुर राजस्थान 2010
30. पश्चिमी घाट विभिन्न भारतीय राज्य 2012
31. राजस्थान के पहाड़ी किले राजस्थान 2013
32. रानी-की-वाव (रानी की बावड़ी) पाटन, गुजरात 2014
33. ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान हिमाचल प्रदेश 2014
34. खांगचेंदज़ोंगा राष्ट्रीय उद्यान सिक्किम 2016
35. नालंदा महाविहार का पुरातत्व स्थल बिहार 2016
36. अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर गुजरात 2017
37. मुंबई के विक्टोरियन गोथिक महाराष्ट्र 2018
38. जयपुर शहर राजस्थान 2019
39. कालेश्वर (रामप्पा) मंदिर तेलंगाना 2021
40. धोलावीरा गुजरात 2021

भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल का विवरण

भारत के सभी यूनेस्को विश्व विरासत स्थल

अजंता की गुफाएं

अजंता की गुफाएं का निर्माण दो चरणों में किया गया | पहले चरण में इनका निर्माण अशोक के साम्राज्य के समय किया गया तथा दूसरे चरण में पांचवी से छठी शताब्दी के बीच में गुप्त साम्राज्य के समय किया गया | अजंता की गुफाएं महाराष्ट्र राज्य में स्थित है |अजंता की गुफाएं हिंदू और बौद्ध धर्म से संबंधित हैं |

एलोरा की गुफाएं

एलोरा की गुफाएं भारत के महाराष्ट्र राज्य में स्थित हैं यह हिंदू बौद्ध और जैन तीनों धर्म से संबंधित हैं | इन गुफाओं का निर्माण संभवत 7 वीं से 11वीं शताब्दी के बीच में किया गया है | यह भारत के प्राचीन इतिहास के सांस्कृतिक और कलात्मक को दर्शाते हैं |

आगरा का किला

आगरा का किला उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में यमुना नदी के किनारे स्थित हैं | इसे आगरा के लाल किले के रूप में भी जाना जाता है, क्योंकि यह लाल पत्थरों से बना हुआ | यह किला भारत में मुगल साम्राज्य के समय बनाया गया था | इसकी लंबाई 2.5 किलोमीटर हैं | यह ताजमहल के पास में स्थित हैं |

ताजमहल

ताजमहल विश्व के 7 आश्चर्य (7 Wonders Of World) में से एक यमुना नदी के तट पर आगरा में स्थित हैं | इसका निर्माण शाहजहां ने अपनी तीसरी पत्नी बेगम मुमताज महल की याद में करवाया था | ताजमहल का निर्माण 16 वर्ष के दौरान 1631 से 1648 तक किया गया | ताजमहल के मुख्य शिल्पकार उस्ताद अहमद लाहौरी थे | यह सफेद संगमरमर से बनाया गया है | इसके चारों ओर 17 हेक्टेयर का मुगल गार्डन बनाया गया है |

सूर्य मंदिर कोणार्क

कोणार्क में स्थित सूर्य मंदिर जोकि उड़ीसा के पुरी जिले में स्थित है | कोणार्क सूर्य मंदिर को “ब्लैक पैगोडा” के नाम से भी जाना जाता है | इसका निर्माण 13 वीं शताब्दी में पूर्वी गंगा वंश के राजा नरसिंहदेव प्रथम के द्वारा किया गया था | यह मंदिर बंगाल की खाड़ी के किनारे स्थित महानदी डेल्टा क्षेत्र में है |

महाबलीपुरम के मंदिर

तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से 58 किलोमीटर दूर स्थित है महाबलीपुरम में स्थित स्मारकों के समूह को यूनेस्को विश्व विरासत का दर्जा प्राप्त हैं | महाबलीपुरम में स्मारकों के समूह का निर्माण पल्लव वंश के राजाओं ने सातवीं और आठवीं शताब्दी में करवाया था |

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान

भारत के उत्तर पूर्वी राज्य असम में ब्रह्मपुत्र नदी के दक्षिण किनारे पर स्थित काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान को 1985 में यूनेस्को विश्व विरासत का दर्जा प्राप्त हुआ था | 1974 में काजीरंगा को राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा प्राप्त हुआ था | काजीरंगा 42,996 हेक्टेयर के क्षेत्र में फैला हुआ है और यह एकमात्र जगह है जहां पर एक सींग का गेंडा पाया जाता है |

मानस राष्ट्रीय उद्यान

भूटान देश की सीमा पर स्थित असम राज्य में मानस राष्ट्रीय उद्यान अपनी अनोखी विशेषताओं के कारण 1985 में यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत धरोहर में शामिल किया गया | 50,000 हेक्टेयर क्षेत्र में फैले मानस टाइगर रिजर्व मानस को 1973 में टाइगर रिजर्व का दर्जा दिया गया था | यहां पर बहुत विविध प्रकार के पेड़ पौधे और पशु पाए जाते हैं |

केवलादेव घना पक्षी अभ्यारण

राजस्थान के भरतपुर जिले में स्थित हैं केवलादेव घना पक्षी अभ्यारण | यह पक्षियों के लिए सबसे पसंदीदा जगह हैं | सर्दियों में यहां पर देश-विदेश से हजारों की संख्या में पक्षी प्रवास करने आते हैं | केवलादेव घना पक्षी अभ्यारण को 1982 में राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा दिया गया | इसे 1981 में रामसर स्थल घोषित किया गया और 1985 में यूनेस्को की विश्व विरासत स्थल में शामिल किया गया | यह पूरा अभ्यारण 2783 हेक्टेयर में फैला हुआ है |

गोवा के चर्च

गोवा राज्य में 16 वी से 18 वीं शताब्दी के बीच में पुर्तगाली शासकों के द्वारा बनाए गए 60 से भी ज्यादा चर्च को 1986 में यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत सूची (UNESCO World Heritage Site In India) में शामिल किया गया | यह सभी चर्च वेल्हा गोवा या पुराना गोवा में मांडवी नदी पर स्थित है |

खजुराहो के स्मारक

मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में स्थित है | चंदेल वंश द्वारा निर्मित खजुराहो के स्मारक हिंदू और जैन धर्म से संबंधित हैं | खजुराहो में लगभग 85 मंदिर बनाए गए हैं | इनमें सबसे प्रसिद्ध कंदरिया महादेव मंदिर हैं | इन मंदिरों में इन मंदिरों की कलाकृति अनूठी हैं और इसी कारण से यूनेस्को ने 1982 में खजुराहो को विश्व विरासत में शामिल किया है |

हंपी के स्मारक

हंपी के स्मारक कर्नाटक के विजयनगर जिले में स्थित है | प्राचीन विजयनगर साम्राज्य की राजधानी हम्पी, जोकि तुंगभद्रा नदी के किनारे स्थित है, में बहुत सारे स्मारक बनाए गए हैं, जिन्हें यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत सूची में शामिल किया है | यह स्मारक हिंदू और जैन धर्म से संबंधित हैं तथा इनका निर्माण 14 वीं से 16 वीं शताब्दी के बीच में किया गया है | हंपी के मंदिर द्रविड़ शैली में बनाए गए हैं |

फतेहपुर सीकरी

अकबर द्वारा अपनी जीत के उपरांत फतेहपुर सीकरी में बुलंद दरवाजा सहित कई स्मारक बनवाए गए | अकबर ने अपनी राजधानी फतेहपुर सीकरी को बनाया था | फतेहपुर सीकरी का निर्माण 1571 से 73 के बीच में किया गया था | फतेहपुर सीकरी के सभी स्मारक मुगलकालीन वास्तुकला से संबंधित हैं | फतेहपुर सीकरी में जामा मस्जिद, बुलंद दरवाजा, पंचमहल, सलीम चिश्ती का मकबरा, आदि स्थित है | फतेहपुर सीकरी वर्तमान में उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित है |

पट्टादकल के स्मारक

कर्नाटक राज्य में स्थित पट्टादकल के स्मारक समूह को यूनेस्को द्वारा 1987 में विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया है | नागर और द्रविड़ शैली के संगम से बने हुए यह स्मारक चालुक्य वंश द्वारा छठी से आठवीं शताब्दी के बीच में बनाए गए थे | यहां पर विरुपक्षा मंदिर हैं, जोकि 740 ईस्वी में रानी लोक महादेवी द्वारा उनके पति विक्रमादित्य द्वितीय के पल्लव वंश पर जीत के लिए बनाया गया था | ध्यान रहे एक विरुपक्षा मंदिर हम्पी में भी हैं |

एलिफेंटा की गुफाएं

महाराष्ट्र में मुंबई शहर के पास में अरब सागर के तट पर पश्चिमी घाट में स्थित है | एलिफेंटा की गुफाएं यहां पर गुफाओं का दो समूह है और यह गुफाएं हिंदू और बौद्ध धर्म से संबंधित हैं | 1987 में एलीफेंटा की गुफाओं को विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया था | हिंदू धर्म में यह भगवान शिव को समर्पित गुफाएं हैं |

चोल मंदिर

तमिलनाडु राज्य में चोल स्थापित साम्राज्य द्वारा 11वीं और 12वीं शताब्दी के आसपास में निर्मित मंदिरों को यूनेस्को विश्व विरासत सूची में शामिल किया | तीन प्रसिद्ध मंदिर है तंजावुर में स्थित बृहदेश्वर, गंगेकोडसोलपुरम में स्थित बृहदेश्वर मंदिर और तीसरा दरसौरम में स्थित एराटेश्वर मंदिर |

सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान

सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान विश्व का सबसे बड़ा मैंग्रोव वन क्षेत्र तथा विश्व का सबसे बड़ा डेल्टा है, जो गंगा और ब्रह्मपुत्र नदी द्वारा भारत के पश्चिम बंगाल राज्य और बांग्लादेश में मिलकर बनता हूं | भारत में स्थित सुंदरवन राष्ट्रीय भारत को टाइगर रिजर्व, बायोस्फीयर रिजर्व और यूनेस्को विश्व विरासत स्थल का दर्जा दिया गया है | 10,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान |

यूनेस्को विरासत स्थल से संबंधित प्रश्न

  1. वर्तमान में भारत में कितनी यूनेस्को विश्व विरासत स्थल है ?

    वर्तमान में भारत में कुल 40 यूनेस्को विश्व विरासत स्थल है |

  2. यूनेस्को में भारत के कितने विरासत स्थल है ?

    यूनेस्को में वर्तमान में भारत में कुल 40 विश्व विरासत स्थल हैं | वर्ष 2021 में रूद्रेश्वर मंदिर (तेलंगाना) और धोलावीरा (गुजरात) को यूनेस्को विश्व विरासत में शामिल किया है |

  3. भारत में कहां सर्वाधिक यूनेस्को विश्व विरासत स्थल है ?

    भारत के महाराष्ट्र राज्य में सर्वाधिक 5 UNESCO को विश्व विरासत स्थल है, जिनकी पूरी सूची आपको इस पोस्ट में दी गई हैं |

  4. किस देश में सर्वाधिक यूनेस्को विश्व विरासत स्थल है ?

    इटली देश में सर्वाधिक यूनेस्को विश्व विरासत स्थल है | वर्तमान में लगभग 55 UNESCO विश्व विरासत स्थल इटली देश में है |

    भारत के 100 राष्ट्रीय उद्यान-click here

    2021 में बदले हुए नए नामclick here 

    भारतीय राज्यों की पहली महिला मुख्यमंत्रीclick here

    विश्व के प्रमुख घास के मैदान-click here

    NATO क्या है NATO में कितने देश हैं-click here

    NABARD नाबार्ड क्या है-click here
    MB, GB, TB का फुल फॉर्म क्या होता है-click here
    MRP का फुल फॉर्म क्या होता है-click here

    कैसी लगी आपको ये भारत के सभी यूनेस्को विश्व विरासत स्थल की सूचि | पूरी जानकारी हिंदी में की  यह पोस्ट हमें कमेन्ट के माध्यम से अवश्य बताये और आपको किस विषय की नोट्स चाहिए या किसी अन्य प्रकार की दिक्कत जिससे आपकी तैयारी पूर्ण न हो पा रही हो हमे बताये हम जल्द से जल्द वो आपके लिए लेकर आयेगे|

    ये भी पढ़े 

Comments are closed.

error: Content is protected !!